ठीक हूँ

Author: kapil sharma / Labels:

अपने बेकल नयनों
के सवाल,
सिर्फ इस वास्ते
 बे जवाब ही रहने दिए,

के जब भी मिलो,
और पुछ बैठो की
कैसा हूँ मैं,
मेरा जवाब हो,
"ठीक हूँ!"

यूँ भी हुआ था,
जब बिछड़े थे हम दोनों
 

0 comments:

अंतर्मन