तेरी जात क्या है?

Author: kapil sharma / Labels:

रौशन तुझसे, 
मैकदे, कब्रें, 
शिवाले सब
लौ ए शम्मा 
तेरी जात क्या है?
 

0 comments:

अंतर्मन